यूपी प्रवासी योजना 2020 UP Migrants Scheme

0
Scheme-for-UP-Migrants-In-Hindi
Scheme-for-UP-Migrants-In-Hindi

Scheme for UP Migrants 2020- जैसा की आप जानते ही हैं की इस समय पूरा देश कोरोना महामारी की चपेट में है जिस कारण सभी राज्यों को पूर्णरूप से लॉक डाउन किया गया है। जिसके कारण सभी राज्यों के प्रवासी सबसे ज्यादा प्रभावित हुए हैं। जिनके लिए सभी राज्य सरकारों द्वारा कई योजनाओं को शुरू किया है। जिसमे उत्तर प्रदेश सरकार ने भी “यूपी प्रवासियों के लिए योजना 2020 (Scheme for UP Migrants)” शुरू की है जिसके तहत कई योजनाओ को शामिल किया गया है जिसकी जानकारी हम आपको नीचे आर्टिकल में प्रदान करेंगे। अतः इससे जुडी सभी जानकारी के लिए लेख को अंत तक ध्यानपूर्वक पढ़ें।

Scheme for UP Migrants 2020 के तहत यूपी सरकार 20 लाख प्रवासियों को रोजगार प्रदान करेगी, साथ ही सभी प्रवासी श्रमिक कामगार के लिए लेबर रिफॉर्म कानून लागु किया जायेगा।और इसके अलावा महिला कामगार/ श्रमिकों के लिए महिला सुरक्षा कानून व इन सभी को 5 हजार वेतन की गारंटी दी जाएगी।

UP प्रवासी रोजगार योजना 2020

UP Pravasi Rojgar Yojana 2020 – सरकार दवरा Scheme for UP Migrants की घोषणा करते हुए सरकार ने घर लौटे 20 लाख प्रवासियों (UP Pravasi Yojana)को रोजगार देने की घोषणा की। महिला श्रमिकों को भी स्वयं सहायता समूहों के माध्यम से रोजगार उपलब्ध कराया जाएगा। इसमें कहा गया है कि राज्य सरकार यूपी के छोटे और मझोले उद्योगों को चीन, बांग्लादेश, वियतनाम आदि से बेहतर बनाने के लिए काम कर रही है। यूपी प्रवासी योजना  के तहत उद्यमियों को स्वरोजगार के लिए ऋण दिया जाएगा और हम उम्मीद कर रहे हैं कि उनमें से प्रत्येक अपने नए प्रतिष्ठानों में कम से कम चार से पांच लोगों को रोजगार प्रदान करेगा।

उत्तर प्रदेश 15 हजार वेतन की गारंटी (UP प्रवासी योजना)

Uttar Pradesh 15 thousand salary guarantee – मुख्यमंत्री योगी ने अपने मुख्यमंत्री की सबसे महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हुए बेरोजगार प्रवासी कामगार श्रमिकों को लेबर रिफॉर्म के तहत नौकरियां प्रदान करने का कार्यक्रम आरंभ कर दिया है। उनका कहना है कि इस पहल से रोजगार सृजन की व्यापक संभावनाएं बढ़ने की उम्मीद है। साथ ही अर्थव्यवस्था सुधार में भी यह योजना  (यूपी प्रवासी योजना 2020) काफी काम कर होगी। मुख्यमंत्री द्वारा यह भी घोषणा की गई है कि लेबर रिफॉर्म के तहत जिन मजदूरों को काम दिया जाएगा उन्हें लगभग 15000 रुपये वेतन प्रति माह प्रदान किया जाएगा। साथ ही वे कितने घंटे काम करेंगे और उनकी सुरक्षा की पूरी गारंटी भी सरकार ने अपने कंधों पर ले ली है।

उत्तर प्रदेश महिला कामगार श्रमिकों के लिए महिला सुरक्षा कानून-

Women Protection Act for Uttar Pradesh – जैसे की सीएम योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा यह भी घोषणा की गई है कि महिला श्रमिकों के लिए महिला सुरक्षा कानून व्यवस्थाएं की जाएंगी। नई इकाई के साथ ही पुरानी इकाइयों में भी बदलाव लाते हुए लेबर रिफॉर्म कानून लागू किया जाएगा। उन्होंने उत्तर प्रदेश सरकार का मुख्य उद्देश्य बड़े उद्योगों को बढ़ावा देते हुए बांग्लादेश और वियतनाम जैसे देशों को पछाड़ते हुए भारत देश को सबसे आगे बढ़ाना है। कहा कि महिला स्वयं सहायता समूह के लिए एक विशिष्ट स्तर पर प्रशिक्षण कार्यक्रम भी आरंभ किए जाएंगे। महिलाओं को अधिक भार वाले कामना सौंपते हुए सीएम ने डिटर्जेंट कारोबार के साथ-साथ इत्र, एग्री प्रोडक्ट्स, धूपबत्ती, अगरबत्ती, फूड पैकेजिंग के साथ-साथ गऊ आधारित कृषि के उत्पादों जैसे फूल आधारित उत्पादों के साथ-साथ कंपोस्ट खाद आदि के कारोबार में महिलाओं को प्राथमिकता देने के लिए कहा है।

प्रवासी राहत मोबाइल एप्प –

Migrant Relief Mobile App उत्तर प्रदेश राज्य के मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ जी के द्वारा प्रवासी मजदूरों को राहत पहुंचाने के के लिए Mobile App लॉन्च किया गया है | उत्तर प्रदेश के जो भी प्रवासी मजदूर अन्य किसी राज्यों में फसे हुए थे और वह अब वापस यूपी में लोट आये है उन्हें इस UP Relief Mobile App के माध्यम से विभिन्न योजनाओ का लाभ प्रदान किया जायेगा और साथ ही मजदूरों का डेटा कलेक्ट कर भविष्य में उन्हें उनके कौशल के हिसाब से नौकरी और आजीविका प्रदान करने की व्यवस्था की जाएगी | आपको यदि UP प्रवासी योजना से लगी हुई कोई जानकारी चाहिए तो कृपया नीचे कमेंट बॉक्स में लिखें|

Download Uttar Pradesh Migrant Relief Mobile App

यह भी पढ़ें: बैंक सखी योजना 2020 उत्तर प्रदेश ऑनलाइन आवेदन, पंजीयन, योग्यता

Leave A Reply

Your email address will not be published.